फ्रांस का गूगल को बड़ा झटका, लगाया 60 करोड़ डॉलर का जुर्माना, आखिर मामला क्या है? 

फ्रांस की एंटी-ट्रस्ट एजेंसी ने मंगलवार को गूगल पर एक आदेश का उल्लंघन करने पर 500 मिलियन यूरो का जुर्माना लगा दिया। भारतीय मुद्रा में इस राशी की कीमत लगभग 4410.5 करोड़ रुपये से भी ज्यादा होगी। 

फ्रांस का गूगल को बड़ा झटका, लगाया 60 करोड़ डॉलर का जुर्माना, आखिर मामला क्या है? 
Google

फ्रांस की एंटी-ट्रस्ट एजेंसी ने मंगलवार को गूगल पर एक आदेश का उल्लंघन करने पर 500 मिलियन यूरो का जुर्माना लगा दिया। भारतीय मुद्रा में इस राशी की कीमत लगभग 4410.5 करोड़ रुपये से भी ज्यादा होगी। 

समाचार एंजेसी एपी के मुताबिक, गूगल का फ्रांस में कुछ वक्त से वहां के प्रकाशकों के साथ एक विवाद चल रहा है जिसमें फ्रांसीसी प्रकाशकों की मांग है कि गूगल उनके द्वारा प्रकाशित खबरों के बदले कुछ भुकतान करें। इस खबर पर एंटी-ट्रस्ट एंजेसी का कहना है कि यदि गूगल ने दो महिनों के अंदर नही बताया कि वहां के प्रकाशकों को वह किस प्रकार से भूकतान करेगा तो इसके लिए उस पर प्रतिदिन के हिसाब से 1 मिलियन अमेरिकी डॉलर का अतिरिक्त जुर्माना लगाया जाएगा। वहीं, गूगल ने इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि फ्रांसीसी सरकार के इस फैसले से वह बेहद आहत हुआ है। इसके साथ ही इस मसले पर आगे गूगल ने कहा है कि ये फैसला उनके समझौते की दिशा में किए जा रहे प्रयासों और उनके मंच पर न्यूज सामग्री के इस्तेमाल की वास्तविकता से दूर है। गूगल ने फ्रांस से यह भी कहा है कि हम समाधान की दिशा में काम कर रहे हैं और कुछ प्रकाशकों से समझोते तक पहुंचने की कगार में हैं। 

बता दें कि फ्रांस में यह इकलौता मामला नहीं है, बल्कि इससे पहले भी यहां इस प्रकार के मामले सामने आ चुके हैं। दरअसल, युरोपीय संघ चाहता है कि गूगल और अन्य तकनीक क्षेत्र की कंपनियां जैसे कि फेसबुक आदि वहां के लोकल प्रदाताओं के न्यूज सामग्री के बदले कुछ भुकतान करें। गौरतलब है कि फ्रांस की एंटी ट्रस्ट एजेंसी ने इस साल की शुरुआत में गूगल को तीन महिनों के अंदर प्रकाशकों से बात करके उनके बात के समाधान का आदेश दिया था लेकिन गूगल ने इस कानून की अनदेखी की, जिसकी वजह से उस पर यह जुर्माना लगाया गया है।