डेल्टा वैरिएंट से बिगड़े हालात, अब सरकार कभी-भी उठा सकती है ये बड़ा कदम

third wave of corona virus in india :जैसे तैसे तो कोरोना वायरस से हालात दुरूस्त हुए थे, लेकिन अब पिछले कुछ दिनों से जिस तरह कोरोना की तीसरी लहर की खबरें सामने आ रही है, उसने सभी के होश फाख्ता करके रख दिए हैं। हालांकि, अभी तक कुछ इस तरह के लक्षण तो सामने नहीं आए हैं, जिससे यह जाहिर हो सके कि कोरोना की तीसरी लहर कब तक आ सकती है,

डेल्टा वैरिएंट से बिगड़े हालात, अब सरकार कभी-भी उठा सकती है ये बड़ा कदम
Coronavirus

जैसे तैसे तो कोरोना वायरस से हालात दुरूस्त हुए थे, लेकिन अब पिछले कुछ दिनों से जिस तरह कोरोना की तीसरी लहर की खबरें सामने आ रही है, उसने सभी के होश फाख्ता करके रख दिए हैं। हालांकि, अभी तक कुछ इस तरह के लक्षण तो सामने नहीं आए हैं, जिससे यह जाहिर हो सके कि कोरोना की तीसरी लहर कब तक आ सकती है, लेकिन मौजूदा वक्त में जिस तरह से डेल्टा वैरिएंट के मामले सामने आ रहे हैं, उससे यह साफ जाहिर हो रहा है कि अब बहुत जल्द ही कोरोना की तीसरी लहर मौजूदा मंजर को खौफजदा कर सकती है। भारत में कोरोना की तीसरी लहर कब आएगी। फिलहाल, इसे लेकर तो स्थिति स्पष्ट नहीं हुई है, मगर पिछले अभी अमेरिका में जिस तरह की स्थिति बनी हुई है, उससे ऐसा लगता है कि वो बहुत ही नजदीक आ चुका है, जब कोरोना की तीसरी लहर अपना तांडव दिखा सकती है। 
  

अमेरिका के हालिया हालात 


वहीं, अगर अमेरिका के हालिया हालात की बात करें तो वहां मौत की दर में 70 फीसद तो संक्रमण दर में 26 फीसद तक का इजाफा दर्ज किया गया है। खासकर, ऐसे में डेल्टा वैरिएंट के सर्वाधिक मामले सामने आ रहे हैं। इससे साफ जाहिर हो रहा है कि कोरोना की तीसरी लहर के दौरान सबसे ज्यादा डेल्टा वैरिएंट से ताल्लुक रखने वाले हैं। जून के अंत में रोजाना ग्यारह हजार मरीज आते थे, जिसकी तुलना में ये आंकड़ा दोगुने से अधिक हो गया है। व्हाइट हाउस की कोविड-19 की समन्वयक जेफ जियांट्स ने बताया कि अरकंसास, फ्लोरिडा, लुसियाना, नेवाडा में संक्रमण की रफ्तार तेज है क्योंकि इन राज्यों में टीकाकरण की दर सबसे कम है।

ऐसे लोग ज्यादा पहुंच रहे लोग

 वहीं, अमेरिका में कोरोना का टीका नहीं लगवाने वाले लोगों को अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ रहा है। लिहाजा, अमेरिकी सरकार समेत अमेरिकी चिकित्सक लगातार अपने नागरिकों से यही अपील कर रहे हैं कि सभी लोग कोरोना तीसरी लहर में खुद को महफूज रखने  वाले लोगों को टीका लगवाना अनिवार्य है।