ये शख्स साल में 300 दिन सोता है, ऐसे करता है अपने सारे काम, है  इस घातक बीमारी का शिकार 

आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे। जी हां...हैरान इसलिए, क्योंकि यह शख्स साल में 300 दिन लगातार सोने का कीर्तिमान स्थापित कर चुका है। हम सबको पता है कि एक साल में 365 दिन ही होते हैं।

ये शख्स साल में 300 दिन सोता है, ऐसे करता है अपने सारे काम, है  इस घातक बीमारी का शिकार 
Men Sleep

आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे। जी हां...हैरान इसलिए, क्योंकि यह शख्स साल में 300 दिन लगातार सोने का कीर्तिमान स्थापित कर चुका है। हम सबको पता है कि एक साल में 365 दिन ही होते हैं। ऐसे में किसी का साल में 300  दिन लगातार सोते रहना यकीनन हमें हैरान करने के साथ-साथ हमारे जेहन में कई तरह के सवाल भी पैदा करता है। जैसे वो शख्स इन 300 दिन में कैसे खाना खाता होगा? कैसे पानी पीता होगा?  कैसे अपनी नित्य क्रियाओं को अंजाम देता है?  आइए, जरा  इन सब के बारे में तफसील से जानते हैं कि आखिर वो यह सब काम कैसे करता है और इन सबसे बड़ा सवाल यह है कि आखिर कोई  शख्स ३०० सालों तक सोकर जिंदा कैसे रह सकता है। 

 है ऐसी घातक बीमारी का शिकार 

विज्ञान की दुनिया में इस घातक बीमारी का नाम हायपरसोम्निया है। इस  बीमारी का शिकार होने के बाद इंसान अत्याधिक सोने लगता है। यह साल में महज ६० दिन ही जागे रहते हैं और बाकी के दिन यह सोए ही रहते हैं। वहीं, अपने बाकी के कामों के लिए यह अपने परिजनों पर आश्रित रहते हैं। अपनी  नित्य क्रियाओं के लिए वे अपने परिजनों पर निर्भर रहते हैं। जैसे, अगर उन्हें खाना, पानी पीना, शौचालय समेत अन्य क्रियाओं के लिए उन्हें दूसरों पर निर्भर रहना पड़ता है। जैसे उन्हें भूख, प्यास नित्य क्रियाओं को करनी होती है, तो वे बेचैन महसूस करने लगते हैं। जिससे उनके माता-पिता समझ जाते हैं कि उन्हें कुछ हो रहा है, लेकिन इनके माता-पिता को विश्वास है कि एक दिन ऐसा भी आएगा, जब वह पूरी तरह से ठीक हो जाएंगे। 

 जब यह सो जाते हैं 

वहीं, अगर यह एक बार जाग गए तो ३६ से २८ घंटे तक लगातार जागे ही रहते हैं। इन्हें चाहकर भी नींद नहीं आती है। यह कितने दिनों से सो रहे हैं। इसका पता इनकी दुकानों पर आने वाले अखबारों से होता है। ऐसा नहीं है कि डॉक्टरों ने उनकी उपचार करने की कोशिश नहीं की है, बल्कि कई मौकों पर उनका उपचार किया गया, लेकिन इसका उनकी इस बीमारी पर कोई खास असर नहीं पड़ा है।