ईद को लेकर यूपी सरकार ने जारी किया दिशानिर्देश, उल्लंघन करने वालों की खैर नहीं

आगामी २१ जुलाई ईद का त्योहार है। त्योहार को मद्देनजर रखते हुए योगी  सरकार ने दिशानिर्देश जारी किए हैं। प्रत्येक व्यक्ति इस दिशानिर्देशों में कही  गई बातों का पालन करने के लिए बाध्य है।

ईद को लेकर यूपी सरकार ने जारी किया दिशानिर्देश, उल्लंघन करने वालों की खैर नहीं
CM Yogi

आगामी २१ जुलाई ईद का त्योहार है। त्योहार को मद्देनजर रखते हुए योगी  सरकार ने दिशानिर्देश जारी किए हैं। प्रत्येक व्यक्ति इस दिशानिर्देशों में कही  गई बातों का पालन करने के लिए बाध्य है। प्रदेश सरकार की तरफ से साफ कहा जा चुका है कि अगर कोई व्यक्ति इस दिशानिर्देशों का उल्लंघन करते हुए  दिखा तो उसके खिलाफ कड़ी  कार्रवाई करने का भी प्रावधान है। आइए,  आपको बताते हैं कि आखिर प्रदेश सरकार ने अपने इस दिशानिर्देश में ईद के संदर्भ में क्या कुछ कहा है? 

पढ़िए यूपी सरकार का दिशानिर्देश 

वहीं, उत्तर प्रदेश सरकार के दिशानिर्देश की बात करें, तो उसमें साफ कहा गया है कि ईद के त्योहार के मौके पर किसी विशेष स्थल पर एक साथ ५० व्यक्तियों के एकत्रित होने की इजजात नहीं है। यह निर्देश कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत जारी किए गए हैं। अगर कोई इस नियम का उल्लंघन करते हुए देखा गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वहीं, किसी भी प्रतिबंधित जानवरों की कुर्बानी करने पर रोक लगाई गई है। इस दौरान साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने की बात कही गई है। अगर कोई भी इन नियमों का उल्लंघन करते हुए देखा गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि योगी सरकार की तरफ से यह नियम महज ईद के संदर्भ में नहीं बल्कि कांवड़ यात्रा के संदर्भ में जारी किए गए हैं। आइए, आपको बताते हैं कि कांवड़ यात्रा के संदर्भ में किसी तरह के निर्देश दिए गए हैं। 


कांवड़ यात्रा को लेकर दिशानिर्देश 

सबसे पहले यह जान लीजिए कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार की तरफ से कांवड़ यात्रा पर पहले ही रोक लगाया जा चुका है। इसी बीच सरकार द्वारा जारी किए गए दिशानिर्देश के मुताबिक, मंदिरों, देवालयों  की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के लिए कहा गया है। एक साथ अधिक संख्या में लोगों के एकत्रित होने के लिए मना किया गया है। वहीं, अगर कोई  भी इन दिशानिर्देश में से किसी का भी उल्लंघन करते हुए पाया गया तो उसके  खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का भी प्रावधान किया गया है।